[Q&A in Hindi] Why India is a Nation- A Talk by Sankrant Sanu | Facts About India | Bharat

Last updated on Jan 17, 2019

Posted on Jan 17, 2019

प्रारम्भ की यूरोपीय औपनिवेशिक शक्तियों ने भारत की राष्ट्रीय वैधता को अस्वीकार कर दिया था, क्योंकि उनके अनुसार प्राचीन काल में भारत नामक किसी एक भू-राजनीतिक इकाई की अवधारणा नहीं थी।

श्री संक्रांत सानु जब इसी दृष्टि को पलट कर एक हज़ार वर्ष पूर्व के यूरोप के राजनैतिक इतिहास, अस्तित्व एवं भौगोलिक सीमाओं का परीक्षण करते हैं, तो उनके मन में सहज ही एक प्रश्न मुखर हो उठता है कि इन देश, राष्ट्र, राष्ट्रीयता, संप्रभु राज्य आदि यूरोपीय अवधारणाओं का क्या औचित्य है, जिन्हें आज वैश्विक आदर्श मान समूचे विश्व पर थोपा गया है? ये अवधारणाएं सार्वभौमिक नहीं, परंतु संकीर्ण, कट्टर व रूढ़िवादी पंथों की उपज हैं।

भारतीय राष्ट्रवाद अभी भी यूरोपीय प्रतिमानों में अटका हुआ है। यह आग्रह करना कि कोई राष्ट्र, इतिहास या परंपरा तभी वैध माने जा सकते हैं जब उनके लिखित साक्ष्य उपलब्ध हों, राष्ट्र के विचार को तुच्छ बनाना है। वास्तव में, भारत राष्ट्र सहज सांस्कृतिक विविधता से प्रभूत, जीवित परंपराओं से समृद्ध, प्राचीन काल से चला आ रहा अखंड निरंतर प्रवाह है, जिसे धर्म के अदृश्य धागे ने पिरो कर एकीकृत किया हुआ है। समय आ गया है कि भारतीय जनमानस परिमित हठधर्मिता को अस्वीकार कर अपनी सभ्यताजनित वास्तविकता को पहचानें।

Follow Us on Social Media :

Twitter : https://twitter.com/srijanfn

Facebook : https://www.facebook.com/srijanfounda…

Subscribe to Srijan Talks: https://bit.ly/2PU6JxG

More About Us : https://srijantalks.org/

.
Tags used :
India Facts, Facts about India,
Indian facts, Bharat, History of India, Modern history of India, Indian history, History in Hindi,  hindu,
History of India in hindi
why is india a subcontinent
why is india a quasi federal state why is india great country

source

Share on

Tags

Subscribe to see what we're thinking

Subscribe to get access to premium content or contact us if you have any questions.

Subscribe Now